<
  • 0771-4055708
  • Mon-Sat 10:00 am to 18:00 pm

Old PHQ Premise, Near Raj Bhawan, Raipur, Chhattisgarh, PIN-492001


Sunday, May 7, 2017 | Raipur

मदरसा बोर्ड के स्थापना दिवस पर प्रावीण्य सूची वाले छात्र-छात्राओं का हुआ सम्मान

रायपुर 7 मई । छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड के स्थापना दिवस के अवसर पर यहाँ पुराना पुलिस मुख्यालय परिसर स्थित कार्यालय छ.ग. मदरसा बोर्ड में स्थापना दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया । छ.ग. मदरसा बोर्ड द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय परीक्षाओं में उत्तीर्ण, प्रावीण्य सूची में स्थान पाने वाले 18 छात्र-छात्राओं का इस अवसर पर सम्मान किया गया।
मदरसा बोर्ड के स्थापना दिवस कार्यक्रम में श्रीयुत श्रीचंद सुंदरानी विधायक रायपुर उत्तर मुख्यअतिथि के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री मिर्जा एजाज़ बेग अध्यक्ष छ.ग.मदरसा बोर्ड (राज्यमंत्री दर्जा) ने की। इस मौके पर श्री छगन मुंदड़ा अध्यक्ष सी.एस. आई.डी.सी., श्री सलीम अशरफी अध्यक्ष छ.ग. वक्फ़ बोर्ड, श्री सैयद सैफुद्दीन अध्यक्ष छ.ग. हज कमेटी, श्री सुनील चौधरी, छ.ग. मदरसा बोर्ड के सदस्य श्री सूफ़ी एजाज़ रिज़वी, मिर्जा साजिद पठान, मौलाना रिफअत अली, मौलाना अशरफ विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे।
स्थापना दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री मिर्जा एजाज़ बेग अध्यक्ष छ.ग.मदरसा बोर्ड ने कहा कि यह संयोग की बात है कि आज मदरसा बोर्ड 15वें साल में प्रवेश कर रहा है और आज ही मेरे कार्यकाल का भी एक वर्ष पूरा हो रहा है। हमारी कोशिश है कि हम मदरसों को विकास की ओर ले जाएं। मदरसों के विकास में प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह जी का हमें भरपूर सहयोग मिल रहा है। जबसे प्रदेश में डॉ. रमन सिंह जी मुख्यमंत्री है , उनकी सरकार है तब से मदरसा बोर्ड को लगातार उनका मार्गदर्शन और सहयोग प्राप्त हो रहा है। हम मुख्यमंत्री जी के सहयोग से ही मदरसों को मूलभूत सुविधाएं और पठन-पाठन सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि श्रीयुत श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि इस आयोजन में दोहरी खुशी मिल रही है, मदरसा बोर्ड की स्थापना के साथ ही मिर्जा साहब के कार्यकाल का भी एक वर्ष पूरा हो रहा है। श्री सुंदरानी ने उन्हें एक वर्ष पूरे होने पर बधाई दी। श्री सुंदरानी ने कहा कि कार्यभार ग्रहण करने के बाद एक वर्ष में श्री मिर्जा एजाज बेग ने काफी अच्छा परिवर्तन लाया है, शिक्षा के क्षेत्र में जितना काम हो सकता है वह करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होने प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले परीक्षार्थियों को भी शुभकामनाएं दीं। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित मोहम्मद सलीम अशरफी अध्यक्ष छ.ग. वक्फ़ बोर्ड ने कहा कि तालीम की रूह तरबियत है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि तालीम बिना तरबियत के काम नहीं आती है। उन्होंने कहा कि दीन की तालीम के साथ-साथ दुनियावी तालीम भी हासिल करें। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि की आसंदी से संबोधित करते हुए सी.एस.आई.डी.सी. के अध्यक्ष श्री छगन मुंदड़ा ने कहा कि तालीम जि़ंदगी के लिए है , जि़ंदगी वतन के लिए है। श्री मुंदड़ा ने कौशल विकास योजना की जानकारी देते हुए कहा कि जिसके हाथ में हुनर होगा वह कभी भी भूखा नहीं रह सकता। शिक्षा के साथ हुनर की भी ट्रेनिंग लेने हेतु उन्होंने प्रेरित किया। विशिष्ट अतिथि के रूप में कार्यक्रम में उपस्थित रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव ने कहा कि बगैर शिक्षा के कोई आगे नहीं बढ़ सकता। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में मुस्लिम समाज की महिलाओं की उपस्थित देख कर लग रहा है कि शिक्षा के प्रति वह जागरूक हैं।
छ.ग. मदरसा बोर्ड द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय परीक्षाओं में उत्तीर्ण प्रावीण्य सूची वाले तीन-तीन परीक्षार्थियों को इस मौके पर प्रमाण-पत्र, स्मृति चिन्ह एवं पुरस्कार राशि का चेक प्रदान कर सम्मानित किया गया। हाईस्कूल पत्राचार पाठ्यक्रम परीक्षा में रबीना अंसारी प्रथम, ज़ामिन अली द्वितीय, रिज़वाना फातिमा तृतीय तथा हायर सेकेण्डरी पत्राचार पाठ्यक्रम परीक्षा में मो. इरफान प्रथम, बसीर अंसारी द्वितीय, सुल्ताना बेगम तृतीय, उर्दू अदीब परीक्षा में हिना कौसर प्रथम, आफरीन जहां द्वितीय, रेशमा खातून तृतीय, उर्दू माहिर परीक्षा में फैजान अली प्रथम, सबा अंजुम द्वितीय, शबीना जबी तृतीय, उर्दू मोअल्लिम प्रथम वर्ष में मुमताज बेगम प्रथम, इरफाना द्वितीय, तसनीम खान तृतीय , उर्दू मोअल्लिम द्वितीय वर्ष परीक्षा में मो. एजाज अहमद रजवी प्रथम, नाज बेगम द्वितीय, रूखसार तृतीय, आदि प्रावीण्य सूची मे स्थान पाने वालों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में छ.ग. मदरसा बोर्ड के सचिव मोहम्मद इक़बाल ने अतिथियों का स्वागत किया तथा कार्यक्रम के समापन पर आभार प्रदर्शन भी किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में छात्राओं ने नाते पाक पेश की। बांसुरीवादक श्री जी.पी. वर्मा ने बांसुरी का वादन कर लोगों का मन मोह लिया। कार्यक्रम का संचालन मौलाना जहीरूद्दीन ने किया । कार्यक्रम छ.ग. मदरसा बोर्ड में कार्यरत अधिकारियो-कर्मचारियों के साथ ही बड़ी संख्या में गणमान्य जन, छात्र-छात्राएं तथा मुस्लिम समाज की महिलाएं उपस्थित थीं।

© 2017 Chhattisgarh Madarsa Board . All rights reserved | Design by B CENT